योजना के बारे में


ई-मित्र
ई-मित्र
ई-मित्र
ई-मित्र

आमजन को घर के पास ही विभिन्न  सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए सरकार ने ई-मित्र की सुविधा शुरू की है। बिजली, पानी, मोबाइल के बिल जमा करवाने से लेकर जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र, मूल निवास, परीक्षाओं की फीस, विवाह प्रमाण पत्र बनवाना, रेवेन्यू कोर्ट मैनेजमेन्ट, परीक्षा फीस जमा करवाना, रोज़गार आवेदन जैसी अनेकों सेवाएं ई-मित्र केन्द्रों पर उपलब्ध हैं।

ई-मित्र से आसान हुई ज़िंदगी

पहले विभिन्न सरकारी कामों के लिए अलग-अलग ऑफिसों में जाना पड़ता था जिससे समय खराब होता था व परेशानी भी होती थी। अब गांव-गांव तक सरकारी सेवाएं घर के पास ही उपलब्ध हैं।

जन सुनवाई और प्रशिक्षण की सुविधा भी

लगभग 30000 से अधिक ई-मित्र वीसी (Video Conferencing) से जुड़े हुए हैं। इनके माध्यम से जन-सुनवाई व प्रशिक्षण की सुविधाएं भी दी जा रही हैं।

बैंकिंग सेवाएं भी दे रहे हैं ई-मित्र

राज्य में 15000 ई-मित्र कियोस्क बैंकिंग सेवाएं भी दे रहे हैं। यहां लोग आसानी से अपने भामाशाह खाते में प्राप्त राशि निकाल रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में 2500 ई-मित्र पे-पॉइंट बनाये जा चुके हैं जिनके माध्यम से घर-घर जाकर नकद राशि को निकालने की सुविधा भी दी जा रही है।

400 से ज़्यादा सेवाएं हैं ई-मित्र केन्द्रों पर

राज्य भर में लगभग 51000 ई-मित्र केन्द्रों पर 400 से ज़्यादा सेवाएं उपलब्ध हैं।

ई-मित्र 'सर्विस एटीएम'

देश में पहली बार गांवों में ई-मित्र 'सर्विस एटीएम' से 400 सरकारी सेवाएं मिलेंगी। राज्य की हर पंचायत पर सरकार में ई-मित्र 'सर्विस एटीएम' लगा रही है। इन 'सर्विस एटीएम' पर गाँववासी अपने आप खुद ही विभिन्न सेवाएँ ले सकेंगे। सेवाओं कों आमजन तक डिजिटल रूप से पहुंचाने का यह अपनी तरह का देश का पहला प्रयोग है। इस 'सर्विस एटीएम' से गाँव के लोगों के सरकारी काम अब घर के पास और जल्दी होंगे।


ई-मित्र पर उपलब्ध सेवाओं की सरकार द्वारा निर्धारित दर जानने के लिए क्लिक करें


बोल बदलाव के


चन्द्रेश यादव

झालावाड़

ई-मित्र के माध्यम से कई सरकारी एवं गैर-सरकारी योजनाओं के दस्तावेज बनाए जाते है, साथ ही कई बिलों का भुगतान होने से लोगों को सुविधाएं हुई है और मुझे रोजगार मिला है।


सीताराम

फागी, जयपुर

पहले पैनकार्ड, भामाशाह कार्ड, आधार बनवाने के लिए हमें असुविधा होती थी, लेकिन ई-मित्र के माध्यम से यह काफी आसान हो गया है, यहां नाम जुड़वाने की भी सुविधा उपलब्ध है, हमें जगह-जगह धक्के नहीं खाने पड़ते हैं।


बीरम सिंह रावत

केसरपुरा, अजमेर

गांव में ई-मित्र खुलने से पानी बिजली के बिल भरने के लिए बाहर नहीं जाना पड़ता। ई-मित्र लगने से सुविधा बढ़ी है, पेंशन गांव में ही मिल जाती है।


बीरम सिंह रावत

अजमेर


विडियो


ई-मित्र

टोल फ्री नंबर 1800 180 6127